tree-plantation-amar-agrawal

अपने बच्चों की तरह होनी चाहिए पेड़-पौधों की देखभाल: श्री अमर अग्रवाल


नगरीय प्रशासन, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री श्री अमर अग्रवाल ने वृक्षारोपण कार्यक्रमों में लगाए जाने वाले पौधों की देखभाल अपने बच्चों की तरह करने की जरूरत पर बल दिया। उन्होंने कहा है कि केवल पौधे लगाना पर्याप्त नहीं है, बल्कि उनकी सही परवरिश भी होनी चाहिए। श्री अग्रवाल आज जिला मुख्यालय बिलासपुर के नजदीक ग्राम मोपका में हरियर छत्तीसगढ़ वृक्षारोपण महाभियान 2015 के तहत आयोजित वन महोत्सव को सम्बोधित कर रहे थे। श्री अग्रवाल ने वहां लोगों के साथ बांस के पौधे लगाए। उन्होंने आज बिलासपुर शहर के राजेन्द्र चौक स्थित नेहरू बाल उद्यान में हरियर छत्तीसगढ़ अभियान के तहत छात्र-छात्राओं को आम, आंवला, कटहल, नीबू, जामुन जैसे फलदार वृक्षों के पौधों का निःशुल्क वितरण भी किया।
श्री अग्रवाल ने मोपका में आयोजित वन महोत्सव में लगभग साढ़े सात हेक्टेयर के रकबे में विकसित किए जा रहे बांस संग्रहालय (बम्बू म्यूजियम) के बारे में अधिकारियों से जानकारी ली और उन्हें इसका निर्माण जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए। बांस संग्रहालय में 50 विभिन्न प्रजातियों के बांस के पौधे लगाए जाएंगे और वहां आने वालों को बांस की खेती के बारे में भी बहुत कुछ सीखने का मौका मिलेगा। श्री अग्रवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में हरियाली के विकास और विस्तार के लिए हरियर छत्तीसगढ़ अभियान चलाया जा रहा है। नगरीय प्रशासन मंत्री ने इस अभियान में सभी लोगों से सक्रिय सहयोग की अपील की। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री दीपक साहू और बिलासपुर संभाग के कमिश्नर श्री सोनमणि बोरा ने भी समारोह को सम्बोधित किया। श्री बोरा ने इस अवसर पर बताया कि बिलासपुर राजस्व संभाग के जिलों में हरियर छत्तीसगढ़ अभियान के तहत साढ़े तीन करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य है। नगर निगम बिलासपुर के महापौर श्री किशोर राय और मुख्य वन संरक्षक श्री अनूप श्रीवास्तव ने भी अपने विचार व्यक्त किए।