korba-smart-city-chhattisgarh

कोरबा को भी स्मार्ट सिटी बनाने का निर्णय


राज्य शासन ने कोरबा नगर निगम को स्वयं संसाधनों से स्मार्ट सिटी की तर्ज पर विकसित करने का निर्णय लिया है। नगरीय प्रशासन और विकास मंत्री श्री अमर अग्रवाल ने आज यहाँ नवीन विश्राम गृह में आयोजित नगर निगमों की समीक्षा बैठक के दौरान यह घोषणा की। बैठक में संसदीय सचिव श्रीमती सुनीति राठिया, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के प्रमुख सचिव श्री आर.पी. मंडल और अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
श्री अग्रवाल ने कोरबा नगर निगम के आयुक्त और विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को इसके लिए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं। श्री अग्रवाल ने जलापूर्ति योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि गर्मी के दिनों में पेय जल की कमी न होने पाए इसके लिए सभी नगर निगम अभी से मुस्तैद रहें. उन्होंने कहा कि यदि किसी नगर निगम में जलावर्धन और जलापूर्ति की योजनाये अपूर्ण है तो ऐसी योजनाओं को युद्ध स्तर पर पूरा करें। श्री अग्रवाल ने सभी नगर निगम आयुक्तों को निर्देश दिए हैं कि वे केंद्र और राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजनाओं जैसे  स्वच्छ भारत अभियान , के तहत हर घर शौचालय हर घर नल योजना, अमृत मिशन, स्मार्ट सिटी मिशन, सबके लिए आवास मिशन के तहत प्रधान मंत्री आवास योजना के क्रियान्वयन के लिए अतिरिक्त प्रयास करें। श्री अग्रवाल ने अधिकारियों को हर घर शौचालय हर घर नल योजना के तहत निजी शौचालयों के निर्माण को सर्वोच्च प्राथमिता देने के भी निर्देश दिए।
बैठक में बताया गया कि इस अभियान के तहत मिशन अवधि (2014 से 2019) में प्रदेश के शहरी क्षेत्रों में 2 लाख 26 हजार 200 निजी शौचालयों का निर्माण करने का लक्ष्य है। योजना की शुरुआत से लेकर अब तक करीब 57 हजार शौचालयों का निर्माण पूर्ण हो चुका है और 36 हजार शौचालयों का निर्माण प्रगति पर है। श्री अग्रवाल ने समीक्षा बैठक में नगर पालिक निगमों में संचालित केंद्र और राज्य प्रवर्तित योजनाओं और राजस्व प्रगति की भी जानकारी ली।