industries-minister-of-chhattisgarh-mr-amar-agrawal-participates-in-global-investors-summit-make-in-india-for-defence-sector-inauguration-ceremony-in-goa-2016-29-march-defexpo

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री श्री अमर अग्रवाल 29 मार्च को गोवा में आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्स सम्मेलन में शामिल होंगे


वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री श्री अमर अग्रवाल 29 मार्च को गोवा में आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्स सम्मेलन में विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल होंगे. “मेक इन इंडिया फॉर डिफेन्स सेक्टर “ विषय पर आयोजित इस सम्मलेन के मुख्य अतिथि केन्द्रीय रक्षा मंत्री श्री मनोहर पर्रीकर हैं .इस सम्मलेन का आयोजन केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय और एसोसिएटेड चेंबर ऑफ़ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज ऑफ़ इंडिया द्वारा किया जा रहा है .  श्री अग्रवाल आज शाम को राज्य विमान से गोवा के लिए रवाना होंगे. इस कार्यक्रम में छतीसगढ़ औद्योगिक विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री छगन मूंदड़ा और वाणिज्य और उद्योग विभाग के सचिव श्री सुबोध सिंह भी शामिल होंगे.

उल्लेखनीय है कि है कि रक्षा मंत्रालय के रक्षा उत्पादन विभाग द्वारा द्विवार्षिक  रक्षा प्रदर्शनी, रक्षा प्रदर्शनी (डेफेक्सनपो) में डेफेक्सपो इंडिया का आयोजन किया जाता है .इस वर्ष इस प्रदर्शनी का यह 9वां  संस्करण है . रक्षा प्रदर्शनी (डेफेक्सेपो) में का आयोजन दक्षिणी गोवा के क्यूचपेम तालुका के नाक्वेरी क्विटोल में 28 से 31 मार्च, 2016 को किया जा रहा है .उल्लेखनीय है कि इस सम्मेलन  का आयोजन दो सत्रों में किया जा रहा है. सुबह 9.30 बजे से सुबह 10 बजे तक पंजीयन की प्रक्रिया पूरी की जाएगी .इसके बाद 10 बजे से 12.45 तक प्रथम सत्र और 12.45 से 1.30 बजे तक द्वितीय सत्र का आयोजन किया गया है . स्वागत भाषण एसोचेम के अध्यक्ष श्री सुनील कनोरिया द्वारा और इसके बाद आई एस ए टी के निदेशक श्री विमल सरीन ,एयरबस के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री  पियरे डी बौस्सेट और रिलायंस समूह के अनिल धीरुभाई अम्बानी का उद्बोधन होगा. इसके बाद श्री अमर अग्रवाल विशिष्ट अतिथि के रूप में सम्मलेन को संबोधित करेंगे .सम्मलेन के मुख्य अतिथि श्री मनोहर पर्रीकर के उद्बोधन के बाद एसोचेम के महासचिव डी एस रावत के आभार प्रदर्शन करेंगे . इस सम्मेलन में रक्षा क्षेत्र में  अनुसन्धान और प्रौद्योगिकी से जुड़ी विश्व स्तरीय कम्पनियाँ शामिल हो रहीं हैं. उल्लेखनीय है कि भारत में विश्व का तीसरा सबसे बड़ा सशस्त्रबल है और हम रक्षा और सैन्य क्षेत्र से जुड़े 60 प्रतिशत उपकरण आयात करते हैं. “मेक इन इंडिया” मिशन के तहत उपकरणों का निर्माण देश में ही करने की संभावनाओं पर चर्चा की जाएगी . सम्मेलन के उद्घाटन के बाद सुबह 11 बजे से दोपहर 12.45 तक मेक इन इंडिया और वैश्विक सहयोग में निजी क्षेत्रों की भागीदारी विषय पर चर्चा की जाएगी और इससे जुड़े विषयों पर प्रश्नोत्तर होगा . प्रथम सत्र की अध्यक्षता श्री अशोक कुमार गुप्ता सचिव रक्षा उत्पादन ,केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय भारत सरकार करेंगे और श्री के नागराज नायडू, डायरेक्टर इन्वेस्टमेंट एंड टेक्नोलॉजी डिवीज़न , विदेश मंत्रालय भारत सरकार द्वारा विशेष व्याख्यान दिया जायेगा . बी ए ई  इंडिया के वाईस प्रसीडेंट और महाप्रबंधक श्री एलिस्टर कैस्टेल ,एम् के यु इंडिया के प्रबंध निदेशक श्री नीरज गुप्ता ,रोल्स रायेस के अनुसन्धान और प्रौद्योगिकी के श्री पॉल स्टेन ,एस ए ए बी (साब) के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक श्री जेन वाइडरस्टॉर्म पेनेलिस्ट के रूप में शामिल होंगे .दोपहर 12.45 से दोपहर 1.30 बजे तक नवीन रक्षा खरीद प्रक्रिया : प्रमुख मुद्दे एवं समर्थन विषय पर चर्चा की जाएगी. द्वितीय सत्र की अध्यक्षता श्री जी मोहन कुमार सचिव .केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय भारत सरकार करेंगे और श्री जे रामकृष्ण राव अतिरिक्त सचिव केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय ,भारत सरकार द्वारा विशेष आख्यान प्रस्तुत किया जायेगा .साथ ही पेनेलिस्ट के रूप में बोईंग इंडिया के अध्यक्ष श्री प्रत्युष कुमार ,प्रिसिशन इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड के प्रबंध निदेशक श्री अशोक कनोडिया ,महिंद्रा एयरोस्पेस एंड डिफेन्स के ग्रुप प्रेसिडेंट श्री एस पी शुक्ल और टाटा पावर एस ई डी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राहुल चौधरी पेनेलिस्ट के रूप में शामिल होंगे . इस विषय से जुड़े प्रश्नोत्तरों के बाद नेटवर्किंग लंच का आयोजन किया गया है.