industry-businessman-aadhar-card-chhattisgarh

आधार नंबर की तरह ही उद्यमियों के लिए जारी होंगे उद्योग आधार नंबर


छत्तीसगढ़ शासन के वाणिज्य और उद्योग विभाग तहत सूक्ष्म ,लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय द्वारा आज यहाँ नवीन विश्राम गृह में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया .इस कार्यशाला में वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के सचिव श्री सुबोध सिंह , उद्योग संचालनालय के संचालक श्री कार्तिकेय गोयल , छत्तीसगढ़ औद्योगिक विकास निगम के प्रबंध निदेशक श्री सुनील मिश्र तथा सभी जिलों के जिला उद्योग एवं व्यापर केंद्र के मुख्य महाप्रबंधक, महाप्रबंधक और प्रबंधक तथा विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी सम्मिलित हुए . उद्योग आधार नम्बर के बारे में  जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से आयोजित इस कार्यशाला में बताया गया कि  प्रदेश में अब सभी सूक्ष्म ,लघु एवं मध्यम उद्यमियों को अब ई एम् वन और ई एम् टू फार्म के स्थान पर उद्योग आधार मेमोरेंडम फार्म भरना होगा . अब उद्यमियों को केवल उद्योग आधार मेमोरेंडम नंबर (यु ए एम) जारी होंगे .  उल्लेखनीय है कि भारत सरकार द्वारा 18 सितम्बर 2015 से यू  ए एम् (उद्योग आधार मेमोरेंडम) पंजीयन की शुरुआत ई एम् टू पंजीयन के स्थान पर की गयी है . कार्यशाला में यह भी बताया गया कि केंद्र सरकार द्वारा 18 सितम्बर 2015 के बाद  से ई एम् वन की वैधानिक मान्यता भी समाप्त कर दी गयी है . परन्तु उद्यमियों को चिंतित होने की आवशयकता नहीं है उनके  लिए अनुदान, छूट आदि से सम्बंधित सभी योजनायें पूर्ववत जारी रहेंगी .  उद्योग आधार नंबर प्राप्त करने के लिए उद्यमियों को भारत सरकार की वेब साईटhttp://udyogaadhaar.gov.in  पर पंजीयन करना होगा .यह सुविधा ऑनलाइन और पूर्णतः निःशुल्क है .साथ ही उद्यमियों को इसके लिए किसी भी तरह के दस्तावेजों की जरुरत नहीं है.

इस कार्यशाला में सूक्ष्म ,लघु और मध्यम उद्योग मंत्रालय द्वारा संचालित योजनाओं की भी विस्तृत जानकारी दी गयी .साथ ही ऋण सम्बंधित योजनाओं और इससे जुड़ी समस्याओं के समाधान पर चर्चा करने के उद्देश्य से  विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधियों को भी कार्यशाला में आमंत्रित किया गया था .