industrial-entrepreneur-memorandum-chhattisgarh

उद्यमियों की पहली पसंद बना छत्तीसगढ़ : वर्ष 2014-16 में इण्डस्ट्रियल इन्टरप्रिन्योरशिप मेमोरण्डम में राज्य देश में पहले नंबर पर


छत्तीसगढ़ राज्य निवेश के लिए उद्यमियों की पहली पसंद के रूप में उभर रहा है। यही कारण है कि वर्ष 2014 से 2016 के बीच दाखिल किए गए आईईएम (इण्डस्ट्रियल इन्टरप्रिन्योरशिप मेमोरण्डम) के मामले में छत्तीसगढ़ देश में प्रथम स्थान पर है। इस अवधि में छत्तीसगढ़ राज्य में करीब 2 लाख करोड़ से ज्यादा के आईईएम दाखिल किए गए। अन्य राज्यों की अपेक्षाकृत छोटे राज्य में निवेश के लिए ये रुझान छत्तीसगढ़ के लिए बड़ी उपलब्धि है। इसके पूर्व अवधि में वर्ष 2010 से जुलाई 2015 तक छत्तीसगढ़ राज्य आईईएम दाखिले के मामले में देश में दूसरे स्थान पर था। राज्य ने एमएसएमई के क्षेत्र में भी उल्लेखनीय प्रगति की है। इस क्षेत्र में बढ़ावा देने के लिए विभाग द्वारा उद्यम आकांक्षा का पंजीयन ऑनलाईन किया जा रहा है। ये सुविधा बिना किसी संलग्नक के स्वप्रमाणन के आधार पर दी जा रही है। इसके अलावा विभाग द्वारा पूंजी अनुदान, ब्याज अनुदान, एमएसएमई फैसिलिटेशन सेल की स्थापना, हेल्प लाईन नंबर के माध्यम से सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। इसके अतिरिक्त ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ के माध्यम से प्रक्रियाओं का सरलीकरण, औद्योगिक अधोसंरचना का निर्माण, औद्योगिक पार्कों की स्थापना, निजी क्षेत्रों में इंडस्ट्रियल एरिया की योजना निवेशकों को उद्योग लगाने के लिए प्रेरित कर रही है।