5000-udyog-aadhaar-number-chhattisgarh

प्रदेश में 5 हजार से अधिक उद्यमियों को जारी हुए उद्योग आधार नंबर : सर्वाधिक 790 उद्यमी रायपुर जिले से


सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय भारत सरकार द्वारा  छत्तीसगढ़ के 5 हजार 139 उद्यमियों को उद्योग आधार नंबर जारी किये गए हैं . जारी किये गए उद्योग आधार नंबरों में तीन हजार 794 सूक्ष्म ,1308 लघु और 37 मध्यम उद्योग शामिल हैं .रायपुर  जिले के  सर्वाधिक 790 उद्यमियों को उद्योग आधार नंबर जारी हुए हैं , इसके बाद दुर्ग के 456,धमतरी के  453 ,जांजगीर चाम्पा के  448 ,बिलासपुर के 331 ,बलौदा बाजार के  244,महासमुंद के 242,सरगुजा के 233,कोरबा क के 220,बस्तर के 207,रायगढ़ के 181, राजनांदगांव के 180, कबीरधाम के 163 ,कोंडागांव के 153,कांकेर के 132, बालोद के 112,बेमेतरा के 103,सूरजपुर के 95,कोरिया के 94,गरियाबंद के 83,जशपुर के 51 ,मुंगेली के 49,सुकमा के 36 ,नारायणपुर के 25 ,बलरामपुर के 24  तथा बीजापुर और दंतेवाड़ा के  17 -17 उद्यमियों को उद्योग आधार नंबर जारी किये गए हैं.

उल्लेखनीय है कि भारत सरकार द्वारा 18 सितम्बर 2015 से यू  ए एम् (उद्योग आधार मेमोरेंडम) पंजीयन की शुरुआत ई एम् टू पंजीयन के स्थान पर की गयी है . केंद्र सरकार द्वारा 18 सितम्बर 2015 के बाद  से ई एम् वन की वैधानिक मान्यता भी समाप्त कर दी गयी है . परन्तु उद्यमियों को चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है उनके  लिए अनुदान, छूट आदि से सम्बंधित सभी योजनायें पूर्ववत जारी रहेंगी .  उद्योग आधार नंबर प्राप्त करने के लिए उद्यमियों को भारत सरकार की वेब साईटhttp://udyogaadhaar.gov.in  पर पंजीयन कराना होगा .यह सुविधा ऑनलाइन और पूर्णतः निःशुल्क है .साथ ही उद्यमियों को इसके लिए किसी भी तरह के दस्तावेजों की जरुरत नहीं है. भारत सरकार द्वारा अब तक देश के 6 लाख 4 हजार 688 उद्यमियों को उद्योग आधार नंबर जारी किये गए है .जिसमे प्रथम तीन राज्य क्रमशः बिहार ,महाराष्ट्र और गुजरात हैं . भारत सरकार के सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय द्वारा  बिहार के एक लाख 43 हजार 690  ,महाराष्ट्र के  60 हजार 261  ,गुजरात के 60 हजार 29 उद्यमियों को उद्योग आधार नंबर जारी किये गए हैं.